Sunday, 18 February 2018

Conversation Tips

समय – समय पर भाषा व वार्तालाप विशेषज्ञों ने बातचीत को प्रभावशाली बनाने के कुछ गुर बताए हैं । जिन्हें ध्यान में रख कर आप लोगों के बीच में अपना स्थान बना सकते हैं । ऐसी कुछ महत्वपूर्ण बातों को एक तालिका के रुप में नीचे दिया जा रहा हैं ।

Conversation Tips (  वार्तालाप युक्तियाँ )
Sr.
No.
Dos  ( ऐसा करें )
Don’ts  ( ऐसा न करें )
1.
सदा नम्रता से बात करें ।
(Always talk politely)
अपनी मत हांकें ।
(Don’t blow your own trumpet)
2.
सोच – समझ कर बात करें ।
(Think before you speak)
बिना बात तर्क में मत पड़ें ।
(Don’t argue unnecessarily)
3.
दूसरों की बात ध्यान से सुनें ।
(Listen to others carefully)
लोगों के बीच व्यकितगत कमेंट्स न दें ।
(Avoid giving personal comments in public)
4.
अपनी आवाज और चेहरे के भावों को बात करते समय काबू में रखें ।
(Keep your voice and facial expressions under control while talking)
अश्लील भाषा का प्रयोग न करें ।
(Avoid using obscene language)
5.
दूसरों में दिलचस्पी लें ।
(Show interest in others)
बढ़ा चढ़ा कर बात न करें ।
(Avoid exaggeration)
6.
दूसरों की बात सहानुभूतिपूर्वक सुनें ।
(Listen to others sympathetically)
दूसरों की प्रशंसा करने में कभी न हिचकिचाएं।
(Never hesitate to praise and compliment others)
7.
बातचीत में मित्र बनाएं, शत्रु नहीं ।
(Make friends not enemies while you talk)
अनावश्यक रुप से आत्मीयता दिखाने का प्रयत्न न करें ।
(Never try to be over intimate)
8.
बातचीत में शिष्टाचार का हमेशा ध्यान रखें ।
(Be mannered while talking)
अर्थ समझे बिना किसी शब्द का प्रयोग कभी न करें ।
(Never use a word without understanding meaning)
9.
उम्र और पद में बड़े लोगों से सदा आदर से बात करें ।
(Always be respectful while talking to elders / seniors)
स्लॅंग का अत्यधिक प्रयोग न करें ।
(Avoid excessive use of slang)
सफल और लोकप्रिय वक्ता बनने के लिए ऊपर दी गई बातों को ध्यान में रखना बहुत आवश्यक हैं । आगे दिए गए वार्तालाप के नमूने भी दैनिक उपयोगिता को ध्यान में रखते हुए लिखे गए हैं ।

हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं ।

No comments:

Post a comment